Short StoriesStories

पढ़ेगा इंडिया

“अरी मुनिया तू आज इतनी जल्दी कैसे आ गयी? और चूड़ी के डब्बे ले आयी बाजार से?” “नहीं माई आज वहां की सड़क बंद है, हवलदार ने जाने नहीं दिया।” “हाय राम! आज हाट में…

Read more
Short StoriesStories

लोहे के दरवाज़े

अवनी ने फ्लैट का दरवाजा खोला। सामने सफाई वाली कमला खड़ी थी। “आओ, सुबह से इंतज़ार कर रही थी।” अवनी दरवाज़ा बंद कर रही थी कि ठीक सामने वाले फ्लैट से अगरबत्ती की मोहक खुशबू…
Short StoriesStories

Amma

Homemakers never retire. Amma didn’t retire too, she continued doing her household work by herself, maintaining her creative streak in everyday life. I sat staring at the woman sitting opposite to me, on the couch….
Short StoriesStories

Present In The Present

Hello, here, I’m here, perched on the wooden frame, yes. Okay, you got me. Welcome to the Guptas’ living room. I’m the oldest member of this family. They call me Grandfather’s clock but I actually…
Short StoriesStories

प्रकृति

पानी की लाइन में खड़ी औरतें बतिया रही थीं| “हमारी किस्मत में तो बस ये लाइनें ही लिखी हैं|” “अरे क्या हुआ रधिया|” उषा उसके थोड़ा पीछे लाइन में सर पर साड़ी का पल्ला किये खड़ी थी|…
Short StoriesStories

दादी की डायरी

विन्नी झुंझलाती हुई स्कूल से आयी और बैग सोफे पर पटक दिया। “अरे क्या हुआ विन्नी?” उसे देख दादी ने कहा। “दादी मैथ का ढेर सारा होमवर्क मिला है आज। मम्मी पापा ऑफिस के टूर पर हैं…

Read more